इलायची से गर्भपात कैसे करें। elaichi se garbhpat kaise kare. pregnancy khatam karne ka tarika.

इलायची से गर्भपात कैसे करें। elaichi se garbhpat kaise kare.

नमस्कार, दोस्तों आज हम आपको इलायची से गर्भपात कैसे करें इसके बारें में बताएंगे। यदि आप इलायची से गर्भपात करना चाहतें हैं तो आज हम आपको इलायची के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। तो आइए जान लेते हैं, इलायची से गर्भपात कैसे करें (Elaichi se garbhpat kaise kare)।

सिर्फ इलायची ही नहीं गर्भपात के लिए कोई भी घरेलू नुस्खा उचित नहीं,होता हैं। बल्कि ये आपके जीवन के लिए जानलेवा भी हो सकते हैं। इसमें ज्यादातर अधूरा गर्भपात होने की संभावना अधिक होती हैं। इसके अलावा इससे रक्तस्राव से संबंधित समस्या भी हो जाती हैं।

इलायची से गर्भपात कैसे करें – क्या आप अपना इलायची से गर्भपात कराना चाहते हैं। तो आज के इस पोस्ट में आप लोगों को इलायची से गर्भपात कैसे करें। ( Elaichi se garbhpat kaise kare ) इसके बारे में बताएंगे। गर्भपात कराने के कई सारे घरेलु नुस्खे हैं। जिसकी मदद से गर्भपात किया जाता है। लेकिन आज हम आपको  इलायची से गर्भपात कैसे करें इसके बारे में बताएंगे।

यह बात सत्य हैं कि गर्भपात करने का कोई भी घरेलु नुस्खा सिर्फ 10 हफ्ते तक की प्रेगनेंसी तक ही काम करता हैं। घरेलु नुस्खें से 100% गर्भपात की गारंटी भी नहीं हैं। गर्भपात के घरेलु नुस्खे प्रेगनेंसी के शुरुआत में ही ज्यादा असरदार होता हैं। इसलिए अगर आप 9 से 10 हफ्ते से ज्यादा के प्रेग्नेंट हैं तो डॉक्टर यह मदद से ही अपना गर्भपात कराएँ।

अनचाही प्रेगनेंसी से छुटकारा पाने के लिए महिलाएं कईर तरह के अजीबों- गरीबों उपाय आजमाती हैं जिसमें से एक इलायची के द्वारा गर्भपात भी शामिल है ।

लेकिन ज्यादातर महिलाओं को इसके बारे बिल्कुल पता नही होता है । इसलिए यदि आप इलायची से गर्भपात करने के बारे में जानना चाहते हैं तो आप आसानी से जान सकते हैं।

सूत्रों के मुताबिक अभी तक ये बात सामने नही आयी है की इलायची के द्वारा गर्भपात किया जा सकता है ।

लेकिन अब आप सोच रहे होगें कि तो इलायची के द्वारा Abortion करने का उपाय इतना प्रचलित क्यो हो ?

हालांकि, हमारे देश में आधुनिक समय से ही प्राकृतिक चिकित्सा और आयुर्वेदिक औषधियों से उपचार होता आया हैं। जिसका फायदा उठा कर कुछ लोगो ने अँधविश्वास और दूसरी झूठी बातों का प्रचार किया है । इन्ही में से एक इचायची से गर्भपात का तरीका ( pregnancy khatam karne ka tarika ) शामिल है ।

इलायची के अलावा कुछ लोग गर्भपात करने के लिए तिल, ग्रीन टी, पपीता, अन्नानास का रस,
अजवायन, अनार के बीज, अजमोद,बाजरा,
लहसून, गर्म पानी, विटामिन सी,ब्लड प्रेशर बढ़ाने वाली चीज़े, कैमोमाइल तेल, केले का अंकुर,तुलसी का काढ़ा, गाजर के बीज, और जीरे का भी Use करते हैं ।

दोस्तों इन घरेलू उपायों से गर्भपात हो या ना हो लेकिन इनका उपयोग करना बिल्कुल भी सुरक्षित नही हैं क्योकि इससे अधूरा गर्भपात ( Missed abortion ) होने का डर होता है। अर्थात गर्भपात सही से नहीं होता हैं। जिससे बाद में कई समस्याएं खडी हो सकती है ।

इलायची से गर्भपात।

pregnancy kaise hataye : दोस्तों, अब हम आपको इलायची से गर्भपात करने के बारे में बताएंगे यदि आप भी के बारे में जानना चाहते हैं तो आप इस लेख के माध्यम से नाम सकते हैं तो आइए जानते हैं Elaichi se garbhpat kaise kare इसके बारे में।

दोस्तों अब तक तो आपको पता चल ही गया होगा की इलायची के द्वारा गर्भपात करना संभव नही हैं। लेकिन अगर आप जानना चहाते हैं की इलायची का उपयोग कर के लोग किस तरह से गर्भपात करने की कोशिश करते हैं तो यहाँ हम आपको कुछ ऐसे तरीकों के बारे में बताएंगे। जिन तरीकों को खास तौर पर महिलाएं अबॉर्शन के लिए आजमाती हैं।

1) गाजर के बीज और इलायची :-  गाजर के बीजों और इलायची को रात भर पानी में भिगोकर छोड दें और सुबह पानी के साथ ही इन्हे उबाल कर पी लें। इस उपाय को आपको तब तक करते रहना है जब तक Bleeding start ना हो जाए ।

2)दालचीनी और इलायची :- एक चम्मच दालचीनी चूर्ण ( Powder )एंव 5 -7 इलायचीयों के कूट कर उन्हे एक ग्लास पानी के साथ मिला कर उबालें और दिन में तीन बार सेवन करें। यह उपाय जब तक करें जब तक की आपको ब्लीडिंग शुरू ना हो जाए।

3)इलायची और तुलसी का मिश्रण :- इलायची और तुलसी का मिश्रण भी गर्भपात करने का घरेलू उपाय है । इस उपाय में आपको तुलसी के पत्तों के साथ इलायची को पीस कर प्रतिदिन शहद के साथ लेना होता है। यह उपाय आपको जब तक करना होता है जब तक की आपको ब्लीडिंग शुरू नहीं हो जाती।

4) इलायची और शहद :- इसमें इलायची को पाउडर की तरह पीस कर उसको दिन में तीन बार लेना होता हैं। जब तक की ब्लीडिंग शुरू ना हो जाए ।

उम्मीद, हैं दोस्तों की आपको अपने प्रश्न इलायची से गर्भपात कैसे करें का जबाव मिल गया होगा ।

इनको भी पढ़े :-

pregnancy khatam karne ka tarika.

pregnancy kaise khatam kare : प्रेगनेंसी हर महिला के लिए बहुत बड़ी खुशी होती है। हर व्यक्ति चाहता है कि उसके जीवन में भी यह खुशी आए। लेकिन अगर यह pregnancy बिना तैयारी के आ जाए तो परेशानी का कारण बन जाती है। अगर आप भी pregnancy के लिए तैयार नही हैं लेकिन फिर भी आप प्रेग्नेंट हो गए हैं। और इस कारण से आप परेशान है तो अब आपको परेशान होने की जरुरत नहीं हैं। क्योंकि आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपाय बताएंगे। जिसकी सहायता से 1 से 3 महीने तक का गर्भ गिराया जा सकता हैं। अर्थात गर्भपात किया जा सकता हैं।

1 या 2 हफ्ते की प्रेगनेंसी में ब्लीडिंग शुरू हो जाने पर यह साफ़ हो जाता है कि आपका गर्भपात हो गया है। लेकिन इस स्थिति में भी डॉक्टर से परामर्श लेना जरुरी होता है। इसके अलावा आजकल मार्केट में 2 महीने तक की प्रेगनेंसी से निजात पाने के लिए एबॉर्शन की दवाइयां भी मौजूद हैं। जिनका भी आप इस्तेमाल कर सकती हैं।

लेकिन इनका इस्तेमाल करने से पूर्व एक बार डॉक्टर से परामर्श अवश्य लेना चाहिए। लेकिन यदि आपका गर्भ तीन महीने का हो गया हैं और आप उससे निजात पाना चाहती हैं तो फिर आपको डॉक्टर द्वारा बताएं गए उपचार ही करने होंगे। एेसी स्थिति में अगर आप घरेलू उपाय का इस्तेमाल करती हैं तो ब्लीडिंग तो हो जाती हैं लेकिन सही तरीके से गर्भपात न की परेशानी अधिक बनी रहती हैं। अर्थात घरेलू उपाय से आपके गर्भ में कुछ टिश्यू रह जाएं जो की बाद में अन्य कई बीमारियों का कारण बन जाते हैं।

  • pregnancy khatam krny ka totky.

दोस्तों, यदि आप pregnancy khatam krny ka totky जानना चाहते हैं, तो आप नीचे दी गई जानकारी को पूरा लास्ट तक जरूर पढ़ें।

1) विटामिन सी युक्त खाद्य पदार्थ-

pregnancy khatam krny के लिए विटामिन सी युक्त खाद्य पदार्थों का अधिक सेवन करने से भी प्रेगनेंसी को हानि पहुंचती हैं। इसलिए गर्भवती महिलाओं को विटामिन सी का सेवन नहीं करने की सलाह दी जाती हैं। अगर आपकी प्रेगनेंसी अभी शुरू हुई है तो आपको विटामिन सी युक्त खाद्य पदार्थों का अधिक सेवन करना चाहिए। इसके लिए आप कटहल, कच्चा पपीता, अनानास, पपीता, संतरा, आदि का सेवन कर सकती हैं। यदि आप इन चीजों का सेवन करती हैं तो आपकी pregnancy नहीं रहेगी। अर्थात आपका गर्भपात हो जाएगा।

2) बबूल के पत्ते।
यदि आपकी प्रेगनेंसी 1 महीने से 15 दिनों के बीच तक की है। तो इसके लिए आप बबूल के पत्तों का इस्तेमाल कर सकते है। इसके लिए आप 10-12 बबूल के पत्ते लें और उन्हें एक ग्लास पानी में उबाल लें। पत्तों को तब तक उबालें जब तक पानी आधा न रह जाए। अब इस पानी को ब्लीडिंग शुरू होने तक दिन में कई बार पियें। ऐसा करने से गर्भ अपने आप गिर जाएगा।

3) भुने हुए तिल-

भूने हुए तिल के दाने को  शहद ( Honey ) के साथ मिलाकर खाने से भी आप का गर्भ गिर जाता हैं। लेकिन आप इन उपायों को करते समय इस बात का खास ख्याल रखें कि आपकी pregnancy ज्यादा दिनों की ना हो।

4) लहसुन की कलियां-

कुछ दिनों तक लहसून की 2 कली प्रतिदिन खाएँ, यह तरीका भी आपके Abortion में मदद करेगा।

5)तुलसी के पत्ते।

तुलसी के पत्ते ( Basil leaves ) का काढ़ा बनाकर इसका सेवन 3-4 दिन तक पिएँ। यह उपाय भी Abortion में बेहद कारगर होता हैं।लेकिन याद रखें एक दिन में 1 ग्लास से अधिक तुलसी का काढ़ा न पिएँ। क्योंकि 1 दिन में इससे अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से चक्कर आने, जी मचलनें जैसी समस्या पैदा हो सकती हैं।

6)अनानास का जूस।
अनानास के जूस का सेवन कुछ दिनों तक लगातार करने से भी गर्भ गिराने में मदद मिलती है।

7) शारीरिक अभ्यास।
वजन उठाना, दौड़ना, रस्सी कूदना, बहुत ज्यादा बार सीढ़ियाँ चढ़ना-उतरना, ज्यादा उछल-कूद और व्यायाम भी गर्भ गिराने में मददगार होते हैं।

अगर आपको हमारे द्वारा बताए गए तरीकों को अपनाने के बाद Period आ जाए, तो समझ लिजिए कि गर्भ का अब कोई खतरा नहीं हैं।

गर्भपात कैसे करें। garbhpat karne ke tarika.

garbh girane ka tarika : दोस्तों, अब हम आपको garbhpat karne ke tarika के बारे में बताएंगे। यदि आप इसके बारे में जानना चाहते हैं तो आप हमारे द्वारा दी गई जानकारी के माध्यम से जान सकते हैं कि garbh girane ka tarika क्या है?

  • हर्बल चाय का सेवन।

अगर आप हर्बल चाय गर्भवती महिला को पीला दे तो उसका गर्भ कभी भी नहीं ठहर सकता है। इसलिए गर्भपात के लिए आप हर्बल चाय पी सकते है। उस चाय को पीने के बाद 4-5 मिनट आराम करें। इससे आपका गर्भ जल्दी ही गिर जायेगा।

  • दालचीनी 

दालचीनी एक मसाला है जो आपके व्यंजनों में स्वाद बढ़ाता है, लेकिन यह गर्भपात में भी आपकी सहायता करता है। इसके लिए आप दालचीनी को पानी में घोलकर इसका सेवन करें।
इस बेहतरीन उपाय के जरिए आप गर्भपात जल्द ही कर सकते है। इसके अलावा अगर आपका गर्भ से 1या 2 महीने से अधिक का हो गया है तो आप डॉक्टर की परामर्श से ही कोई भी घरेलू उपाय को अपनाएं।

  • बबूल के पत्तो का उपयोग –

दरअसल, दोस्तों आप बबूल के पत्तों का उपयोग करके भी आप अनचाहे गर्भ को घर पर ही गिरा सकते हैं। इसके लिए आप 2-3 बबूल के पत्तें ले और उनको दो कप पानी में अच्छे से उबाल लें। इस पानी को तब तक उबालें जब तक की यह आधा न रह जाएँ,और इनका सेवन आप जब तक करते रहें जब तक की गर्भ गिर नहीं जाता। इस विधि का प्रयोग करके भी आप भी garbh girane कि समस्या से निजात पा सकते हैं।

  • तिल का सेवन-

यदि आपके गर्भ (garbh) को ज्यादा वक्त नहीं हुआ हैं तो, आप तिल को भूनकर शहद में मिलकर इसका सेवन करें, ऐसा थोड़े दिनों तक करने से आपका गर्भ गिर जायेगा। अनचाहे गर्भ से निजात पाने का का यह भी एक अच्छा घरेलू नुस्खा हैं । |

  • सोयाबीन के दानों का उपयोग –

सोयाबीन के दानों का उपयोग करने से भी आपको इस समस्या से छुटकारा मिल सकता हैं। इसके लिए आप सोयाबीन के दानो को रात में भिगोकर रख दें। और सुबह उठकर खाली पेट उसका सेवन करें | इस घरेलू नुस्खे से भी आप garbhpat कर सकते हैं।

  • दौड़ व व्यायाम करना –

जब भी आप गर्भवती होती हैं तो शुरुआत के दिनों में आप ज्यादा व्यायाम, उछल – कूद व भाग दौड़ करने से भी से आप गर्भपात हो जाता हैं तो यदि आप भी करना चाहती हैं तो आप को भी ज्यादा भाग दौड़ व व्यायाम करना चाहिए | जिससे कि आप अपना गर्भ आसानी से गिरा सकें।

  • कटहल का प्रयोग।

यदि आपका गर्भवती हैं और आप गर्भपात करना चाहती हैं| तो कटहल आपके लिए लाभकारी सिद्ध हो सकता हैं| कटहल एक सब्ज़ी हैं जब भी अनचाहा गर्भ ठहर जाये तो आपको कटहल का जितना हो सके उतना सेवन करना चाहिए। इससे गर्भपात में मदद मिलती हैं। और आप जब तक इसका सेवन करें जब तक की गर्भ न गिर जाएँ।

  • कच्चे पपीते का सेवन –

कच्चे पपीते का सेवन करके भी आप अनचाहे गर्भ को ख़त्म कर सकते हैं। यदि आपका गर्भ ठहर जाता हैं तो आपको कच्चे पपीते का सेवन अधिक मात्रा में करना चाहिए। इससे अनचाहा गर्भ गिराने में मदद मिलती हैं |

  • गरम -गरम पानी से नहाने से –

यदि गरम पानी से मासिक धर्म के समय नहाया जाये तो रक्त का प्रवाह ठीक प्रकार से होता हैं। वैसे ही यदि गर्भपात करने के लिए रोजाना गरम पानी से नहाया जाए तो गर्भपात आसानी से हो जाता हैं। लेकिन गर्भ ज्यादा दिन का नहीं होना चाहिए, और यदि गर्भ ज्यादा दिनों का हो तो आपको डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए।

  • सीताफल के बीजों का उपयोग –

सीताफल के बीजों का इस्तेमाल करके भी आप अनचाहे गर्भ को गिराने में सफल हो सकते हैं |इसके लिए सीताफल के बीजों को पीस कर उनका पेस्ट बनाकर अपनी योनि पर मला जाये तो अनचाहा गर्भ गिर जाता हैं | अर्थात गर्भपात हो जाता है्।

  • विटामिन-सी का सेवन अधिक मात्रा में लेना –

अगर आप गर्भपात करना चाहती हैं तो विटामिन सी अधिक मात्रा में खाना चाहिए। यानी जिन पदार्थो में विटामिन सी की मात्रा अधिक हो उन पदार्थो का सेवन करना चाहिए। ऐसा करने से कुछ ही दिनों में आपका गर्भपात हो जाता हैं।

  • अनानास का अधिक मात्रा में सेवन।

गर्भपात करने के लिए ताजा अनानास का रस बहुत लाभकारी होता है जिसे आप घर पर ही जूस बनाकर पी सकती है। अनानास में सबसे ज्यादा विटामिन C और एंजाइम होते है जो गर्भपात के लिए विशेष रूप से जाना जाता है। रोजाना एक गिलास अनानास का जूस गर्भपात करने के लिए विशेष उपयोगी हैं।

  • तिल के बीजों का सेवन ।

यदि आप अनचाहे गर्भ से बचना चाहते हैं तो तिल का बीज बहुत लाभकारी होता है। इसके लिए आप आप रात को तिल के बीज को पानी में भिगोकर रख दें और दूसरे दिन उस पानी को पी जाएँ। तिल के बीज के उपयोग रोजाना खाद्य पदार्थो में भी किया जा सकता है। तिल के बीज का पानी पीनें से आप अवांछित गर्भधारण या अवांछित गर्भपात से मुक्ति पा सकते हैं। मेरी तरफ से तो गर्भपात करना अच्छा नहीं हैं। इससे आपके शरीर को बहुत नुकसान हो सकते हैं। जिससे आपको बाद में गर्भवती न होने जैसी समस्या भी बन सकती हैं।

pregnancy girane ka upay. pregnancy kaise giraye.

pregnancy girane ka tarika : दोस्तों, अब हम आपको pregnancy girane ka upay बताएंगे यदि आप भी pregnancy kaise giraye इसका उपाय जानना चाहते हैं तो आप बिल्कुल सही पोस्ट पर आए हैं क्योंकि इस पोस्ट के माध्यम से आप जान सकते हैं कि आप किस प्रकार से pregnancy गिरा सकते हैं। तो आइए जानते हैं pregnancy girane ka upay क्या हैं इसके बारे में।

दालचीनी :-

 दालचीनी दुनिया भर में सबसे अधिक पसंदीदा और लोकप्रिय मसालों में से एक है। अगर इसे गर्भावस्था के शुरुआती दिनों में लिया जाए, तो यह गर्भाशय के संकुचन और रक्तस्राव का कारण बन सकता है। अधिक मात्रा में इसका सेवन नुकसान पहुंचा सकता है। महिलाओं पर किए गए एक सर्वे में भी इस बात की जानकारी मिलती हैं कि दालचीनी समेत कई जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल गर्भपात के लिए किया जाता है। साथ ही इससे महिला को कई अन्य बीमारियां भी हो सकती हैं । इसलिए आप इस बात का खास ख्याल रखें की आपका गर्भ ज्यादा दिनों का नहीं होना चाहिए। साथ ही इन उपायों को करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

बबूल की फलीयाँ और केले के पत्ते :-

 बबूल की फलियों और केले के पत्ते को भी गर्भपात के लिए इस्तेमाल किया जाता है। बबूल की फलियों से निकलने वाले बीज और केले के पत्ते को सुखाकर, इनका इस्तेमाल पाउडर बनाकर इसका सेवन करने महिलाएं मासिक धर्म आने तक करें। इस नुस्खें को डॉक्टर की सलाह से ही उपयोग में लेना चाहिए वरना इस नुस्खों का सेवन महिला की जान जोखिम में डाल सकता हैं। इसलिए मेरा मानना हैं, कि इस घरेलू नुस्खे का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

गर्भपात के लिए मालिश :-

मांसपेशियों को आराम देने के लिए मालिश अच्छा तरीका है, लेकिन गर्भपात के लिए पेट की मालिश कराना असुरक्षित और पीड़ादायक हो सकता है। गर्भावस्था में पेट की मालिश करनें से महिलाओं की मृत्यु का कारण भी बन सकता हैं। इसलिए आप इस उपाय को बिल्कुल भी ना करें क्योंकि यह उपाय गैरकानूनी माना गया हैं।  

अंजीर:

pregnancy girane के लिए सुखी अंजीर एक असरदार घरेलू नुस्खा है। ये उपाय काफी सरलभी हैं। बस आप जब भी सम्भोग करें। उसके बाद कुछ सुखी अंजीर खा लें। अंजीर रोजाना तब तक खाते रहे जब तक आपके अगला पीरियड्स ना शुरू हो जाए। ऐसा करने से आपकी pregnancy गिर जाएगी।

baccha girane ka tarika.

bacha girane ka tarika : दोस्तों ,अब हम आपको bacche girane ka tarika क्या है ? इसके बारे में बताएंगे यदि आप इसके बारे में जानना चाहते हैं तो आप नीचे दी गई जानकारी को अवश्य पढ़ें। यदि आप भी अपने bacche girane ka tarika खोज रहे हैं तो आप इस के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते हैं तो चलिए देखते हैं, bacha girane ka tarika क्या होता हैं।

गर्भपात किसी भी महिला के लिए अपने शिशु को जन्म देना उसके जीवन का सबसे सुन्दर स्वपन होता हैं। क्योकि वह शिशु के रूप में अपने शरीर और अपनी आत्मा के एक टुकड़े को जन्म देती हैं। किन्तु कुछ महिलाओं के सामने ऐसी स्थित खड़ी हो जाती हैं। जिसकी वजह से उनका शिशु संसार में जन्म नही ले पाता। क्योंकि कई बार ऐसा होता है कि महिला शिशु के लिए तैयार नहीं रहती हैं लेकिन फिर भी उनके जीवन में शिशु की खुशी आ जाती हैं। ऐसे में वह bacche girane ka tarika खोजनें लग जाती हैं। तो यदि आप भी bacche girane ka tarika खोज रहे हैं तो चलिए जान लेते हैं इसके बारे में जानकारी।

गर्भपात करने के तरीके ( Type of Abortion ) :-

यदि आप गर्भावस्था के 1 महीने बाद गर्भपात( Miscarriage ) का विचार कर रही हैं। तो आप इसके लिए नीचे लिखे तरीकों को अपनायें। क्योकि इनसे स्त्री और उसके गर्भ को किसी भी तरह की कोई हानि नहीं पहंचती हैं।

गर्भपात से पूर्व स्त्री को अपने शरीर को तैयार करना जरुरी होता है। इसके लिए स्त्रियों को विटामिन सी से युक्त खाना जैसे कि हरी सब्जी, निम्बू, खीर ,और संतरा इत्यादि खाना चाहियें। गर्म पानी पीना और गर्म पानी से ही नहाना चाहियें और ऐसे कार्य करने चाहियें जिनसे उन्हें पीरियड्स आने की संभावना अधिक हो।

1) तिल और शहद :-

यदि आप अपना bacche girana चाहती हैं तो माहवारी के दौरान हर रोज सुबह खाली पेट एक चम्मच भूने हुए तिल में शहद मिलाकर लेना चाहियें। इससे उन्हें अधिक खून आता है और उनके गर्भपात की संभावना बढ़ जाती है। क्योंकि तिल की तासीर गर्म होती है इसलिए यह आपके गर्भ को ज्यादा दिनों तक ठहरने नहीं देता हैं।

ग्रीन टी ( Green Tea ) : ग्रीन टी या हरी चाय स्वास्थ्य के लिए बहुत अधिक फायदेमंद होती हैं। जैसे कि – वजन कम करना, हृदय को स्वस्थ रखना, शरीर को चुस्त रखना, शरीर में स्फूर्ति इत्यादि। किन्तु अगर इसका अधिक सेवन कर लिए जाये तो यह शरीर के लिए समस्या भी उत्पन्न कर सकती हैं। इसीलिए इसके पैकेट पर भी लिखा होता है कि गर्भवती स्त्री इसका सेवन न करें। क्योंकि यदि गर्भवती महिला इसका सेवन करती हैं तो गर्भपात हो जाता हैं। इसलिए आप भी यदि गर्भपात करना चाहती हैं तो इसका सेवन कर सकती हैं।

2) हींग :-
खाद्य पदार्थों में स्वाद को बढ़ाने के लिए काम में लिया जाता हैं। इसके अलावा भारत में हींग का प्रयोग अनचाही प्रेगनेंसी से छुटकारा पाने के लिए बहुत ही ज़्यादा किया जाता है। पानी में हींग को मिलाकर पीने से रुका हुआ गर्भ निकल जाता है।
और इससे पीरियड्स सही से आना शुरू हो जाता हैं।

3) पुदीना :-

पुदीने का तेल या पुदीने की चाय का प्रतिदिन 3 से 4 बार सेवन करने से पसीना बहुत अधिक आता है। इसके अलावा यह गर्भपात के लिए बेहद उपयोगी हैं।

4) गर्म पानी और मक्का  :-

 वह स्त्रियाँ जो bacha girana चाहती उन्हें पीने, नहाने में जितना हो सके गर्म पानी का इस्तेमाल करना चाहियें। ऐसा करने से शीघ्र ही गर्भपात होता है। इसके अलावा मक्का का सेवन करनें से भी गर्भपात होता हैं।

5) पपीता और अनानास :- 

पपीते से गर्भपात करने के बारे में सबने सुना होगा। क्योकि हर गर्भवती स्त्री को ये सलाह दी जाती है कि वो पपीते से दूर रहे अन्यथा उन्हें गर्भ से जुडी समस्या हो सकती है किन्तु आपको तो गर्भपात करना है इसलिए आप जितना हो सके पपीता और अनानास खायें। इसका एक फायदा ये भी है कि इससे पीरियड्स भी जल्दी आते हैं। और गर्भपात हो जाता हैं।

gajar ke beej for pregnancy in hindi.

gajar ke beej for pregnancy : दोस्तों, अब हम आपको gajar ke beej for pregnancy in hindi के बारे में बताएंगे। यदि आप gajar ke beej for pregnancy के बारे में जानना चाहते हैं, तो आप हमारे द्वारा दी गई जानकारी के माध्यम से आसानी से जान सकते हैं। तो आइए जान लेते हैं gajar ke beej for pregnancy के बारे में।

  • गाजर के बीज।


आधुनिक समय में प्रेगनेंसी रोकने के लिए जंगली गाजर की बीजो का सेवन किया जाता था। जो आज भी काफी असरदार आयुर्वेदिक नुस्खा है। इसका इस्तेमाल करना भी बहुत ही साधारण हैं। गाजर के बीज का सेवन भी pregnancy हटाने के लिए बहुत ही फायदेमंद है। आधे या एक चम्मच गाजर बीज रात को सोने से पहले पानी में भिगो कर रखे और अगली सुबह को इसका पेस्ट बना कर खाएं। इसका इस्तेमाल 1 दिन में 2-3 बार करें। जब भी आपको गर्भ ठहरने का डर हो तो इस उपाय को करना शुरू कर दें।

उम्मीद हैं, दोस्तो अब तो आप समझ ही गए होंगे कि gajar ke beej for pregnancy के बारे में।

anchahe garb ko hatana.

baccha girane ka upay : दोस्तों कई बार ऐसा होता है कि लोग सेक्स के लिए प्रोटेक्शन इस्तेमाल नहीं करते, जिसकी वजह से उन्हें बाद में अनचाही प्रेगनेंसी का सामना करना पड़ता है। सेक्स में गलती की वजह से कई महिलाओं को गर्भनिरोधक लेने की ज़रुरत पड़ती है, जिसका बुरा असर उनकी सेहत पर भी पड़ता है। तो आइये आज आपको बताते हैं कुछ ऐसे घरेलू नुस्खों के बारे में, जिसके इस्तेमाल कर आप अनचाहे गर्भ को रोक सकते हैं। पर ये भी अन्य घरेलू उपायों की ही तरह होता है, जिसमें भी 100 % गारंटी नहीं होती हैं । अर्थात अधुरा गर्भ होने का खतरा अधिक रहता है। इसलिए मेरा आपसे यही सुझाव है कि आप जब भी किसी भी घरेलू उपायों का इस्तेमाल करें उससे पहले एक बार डॉक्टर से सलाह अवश्य लें।  

  • अनचाहे गर्भ को हटाना ।

अदरक: अदरक भी गर्भ निरोधक घरेलू उपायों के रूप में कार्य करती है। यदि आप अनचाहा गर्भधारण नहीं चाहती, तो सेक्स के बाद अदरक को गर्म पानी में गर्म करके पीयें। अदरक से किए गए इस उपाय से भी आप अनचाहे गर्भ धारण करने से बच सकते हैं।

विटामिन सी: विटामिन सी का सेवन करके आप अनचाहे गर्भ को रोक सकते हैं। अनप्रोटेक्टेड सेक्स के बाद विटामिन सी का सेवन दिन में दो बार करना चाहिए। ऐसा करने से आपको गर्भनिरोधक दवा खाने की ज़रुरत नहीं पड़ेगी। और आप अनचाहे गर्भ से आसानी से छुटकारा पा सकते हैं।

अंजीर: अंजीर भी एक घरेलू उपाय के रूप में होता है। सेक्स के बाद 2-3 टुकड़े अंजीर के खाएं, इससे भी अनचाहे गर्भ को रोकने में मदद मिलेगी।

anchahe pregnancy se kaise bache.

शादी के कुछ सालों बाद ही पेरेंट्स बनने की खुशी कई कपल्स को होती है। लेकिन कई बार ऐसा भी होता है कि कई लोगों को शादी करने के बाद भी काफी साल गुजर जाते हैं। लेकिन फिर भी वह पेरेंट्स बनने के लिए तैयार नहीं रहते हैं। वे बच्चे की जिम्मेदारी, घर-परिवार की जिम्मेदारी लेने से पहले जिंदगी को भरपूर जीना चाहते हैं। 3-4 साल एक-दूसरे को समय देना चाहते हैं, घूमना-फिरना चाहते हैं, जीवन को एंजॉय करना चाहते हैं। उसके बाद मां-बाप बनना चाहते हैं। गर्भ ना ठहरे इसके लिए महिलाएं कुछ गर्भनिरोधक दवाओं का सेवन करती हैं। क्या आप जानती हैं दवा के बिना भी कुछ फूड्स ऐसे होते हैं, जिनमें गर्भधारण को रोकने वाले तत्व मौजूद होते हैं। वैसे ये बहुत ज्यादा असरदायक नहीं होते, लेकिन इनका सेवन भी आप कर सकती हैं।

लेकिन यदि आप गर्भनिरोधक दवाओं का इस्तेमाल करना चाहती हैं तो आप ऐसा करने से पूर्व डॉक्टर की सलाह अवश्य लें। साथ ही इन फूड्स का सेवन भी anchahe pregnancy से बचाव करेगा। बिना दवा के भी आप इन चीजों का सेवन करके गर्भधारण की प्रक्रिया को बेअसर कर सकती हैं। तो आइए जानते हैं वह खाद्य पदार्थ कौन से हैं जिनका सेवन से आपको गर्भ रोकने में मदद मिलती है। यदि आप भी anchahe pregnancy se kaise bache इस सवाल का जवाब खोज रहे हैं। तो आप हमारे द्वारा दी गई जानकारी के माध्यम से यह आसानी से जान सकते हैं। कि आप किस प्रकार से इस परेशानी से निजात पा सकते हैं।

1) कॉफी से कम होती हैं गर्भावस्था की संभावना।

कॉफी में मौजूद कैफीन गर्भधारण करने से रोक सकता है। यदि आप शादी के कुछ सालों बाद तक मां नहीं बनना चाहती हैं, तो कॉफी का सेवन कर सकती हैं। हालांकि, बेहतर है कि इस बारे में आप डॉक्टर की राय ले लें, क्योंकि अधिक कॉफी पीना भी सेहत को नुकसान पहुंचाता है।

2) नीम से कम होती हैं गर्भावस्था की संभावना :

बाकी सब की तरह ही अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए नीम एक घेरलू उपाय है। यदि आप सेक्स के समय नीम खा लेते हैं तो यह स्पर्म की गति को कम कर देता हैं। जिससे अनचाहे गर्भ होने का डर खत्म हो जाता हैं।  मार्केट में नीम की कई तरह की गोलियां और तेल आते है जो गर्भावस्था की समस्याओं से निजात दिलाते है।  इस प्रकार से नीम भी गर्भावस्था की संभावना को कम करता हैं।

पपीता खानें कम होती हैं, गर्भावस्था की संभावना। 

अक्सर प्रेग्नेंसी में पपीता का सेवन करने से महिलाओं को मना किया जाता है, क्योंकि पपीता में कुछ ऐसे गर्भनिरोधक गुण होते हैं, जो गर्भपात का कारण बन सकते हैं। पपीते की तासरी गर्म होती है। गर्भवती महिला को अधिक गर्म चीजों के सेवन से बचना चाहिए खासकर शुरुआती तीन महीनो में । पपीता में मौजूद पपेन एंजाइम महिलाओं में प्रेग्नेंसी ठहरने के लिए जिम्मेदार सेक्स हार्मोन के निर्माण में कमी लाता है। ऐसे में आप नियमित पपीता खाकर गर्भधारण की संभावनाओं को काफी हद तक कम कर सकती हैं। साथ ही इससे पेट के रोगों से भी बचाव होगा। यदि आप प्रेग्नेंट नहीं होना चाहती हैं तो आप इस घरेलू उपाय को भी अपना सकती हैं ।

1) 2 month ki pregnancy kaise khatm karen का डॉक्टर तारिका।

क्या आप जानते हैं, 2 month ki pregnancy kaise khatm karen डॉक्टर का तारिका। यदि आप नहीं जानते हैं तो आज हम आपको बताएंगे कि 2 month ki pregnancy kaise khatm karen के बारे में। तो आइए जानते हैं,2 month ki pregnancy kaise khatm karen का तरीका।

2) 2 महिनें कि pregnancy खत्म करने का तरीका।

यदि आपकी pregnancy 2 महीने तक कि हैं, और आप उसे khatm चाहते हैं, तो इस स्थिति में आपको डॉक्टर से सलाह लेनी होगी। वैसे तो इसके लिए बहुत सी दवाएं मार्केट में भी उपलब्ध हैं। लेकिन डॉक्टर की सलाह के बिना इनका इस्तेमाल करना शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है। इसके अलावा ब्लीडिंग होने के बाद भी डॉक्टर से जाँच जरुर करवानी चाहिए। और इस बात की पुष्टि करनी चाहिए कि गर्भपात ठीक प्रकार से हुआ या नहीं।

garbh kaise rukta hai.

कई बार ऐसा होता है कि जाने-अनजाने रिश्ते बनने से गर्भ ठहर जाता है। लेकिन लड़कियां कई बार इसके लिए तैयार नहीं होती है। वो अपने करियर, हेल्थ और अन्य चीजों के बारे में सोचकर गर्भपात नहीं कर पाती है। लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसे असरदार घरेलू नुस्खे बताएंगे, इसकी मदद से आप अनचाहे गर्भ धारण करने से बच सकती हैं। अर्थात प्रेगनेंसी से छुटकारा पा सकती हैं।

  • अखरोट।


अगर आपने संबंध बनाए हैं और आप प्रेगनेंट नहीं होना चाहती हैं तो आप 100 ग्राम अखरोट के छिलकों को पानी में उबाल लें। पानी को जब तक उबालें जब तक कि वह आधा न रह जाए। तब उसमें दो चम्मच शहद मिलाएं। अब इसे छान लें और चाय की तरह पिएं। यह प्रक्रिया तभी कारगर है जब तक कि प्रेगनेंसी की रिपोर्ट पॉजिटिव न आई हो । इस प्रकार से आप अनचाहें garbh को रोक सकती हैं।

  • अंजीर।

अंजीर का सेवन प्रेगनेंसी रोकने के लिए दिन में 3 से 4 बार खाने चाहिए। इससे ब्लड सर्कुलेशन तेज हो जाता है और गर्भ नहीं ठहर पाता है। हालांकि ज्यादा अंजीर खाने से पेट से संबंधित समस्या हो सकती है।

  • पपीता।


यदि आप अनचाहे गर्भ से छुटकारा पाना चाहते हैं तो दिन में कम से कम दो बार पपीता खाएं। इससे गर्भ नहीं ठहर पाता है। इसके अलावा पपीता पेट से संबंधित रोगों के लिए भी लाभदायक होता हैं।
इस प्रकार से आप पपीते का सेवन करके भी अनचाहें garbh को रोक सकती हैं।

  • अदरक।


अदरक को कद्दूकस करके इसे पानी में उबालें। अब इस पानी को उबलने दें। पानी को तब तक उबालें जब तक की पानी आधा न रह जाए। और जब पानी उबलकर आधा रह जाए तब इसे पिएं। इसके अलावा आप अदरक वाली चाय दिन में दो बार पिएं इससे भी garbh नहीं रुकेगा।

  • नीम।

नीम का सेवन भी आप अनचाहे गर्भ से छुटकारा पानें में कर सकती हैं। या फिर आप मार्केट में उपलब्ध नीम की टैबलेट भी खा सकती हैं। ये गर्भ को ठहरने नहीं देता है। और आप इस प्रकार से
अनचाहें garbh को रोक सकती हैं।

  • विटामिन सी का सेवन।

अगर आप विटामिन सी का सेवन दिन में करीब 1500 मिली ग्राम करते हैं तो गर्भ नहीं ठहरेगा। क्योंकि ये बच्चेदानी में बनने वाले प्रोजेस्टोन हार्मोन को बनने से रोकता है। इस प्रक्रिया से भी आप अनचाहें garbh को रोक सकती हैं।

elaichi in pregnancy.

दोस्तों आज हम आपको elaichi in pregnancy के बारे में बताएंगे। यदि आप इसके बारे में जानना चाहते हैं, तो आप हमारे द्वारा दी गई जानकारी के माध्यम से इसके बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। क्या प्रेगनेंसी में हरी इलायची लेना सुरक्षित है? इस सवाल का जवाब अक्सर महिलाएं खोजती रहती हैं। आज का हमारा लेख भी इसी विषय पर है। प्रेगनेंसी के दौरान इलायची का सेवन महिलाओं और भ्रूण के लिए कितना सुरक्षित है और कितना असुरक्षित, इसके बारे में भी बताएंगे। साथ ही हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि प्रेगनेंसी के दौरान इलायची लेने के क्या-क्या फायदे हैं। साथ ही इसके नुकसान के बारे में भी जानेंगे। ऐसा माना जाता है कि गर्भावस्था के दौरान बहुत अधिक मात्रा में इलायची का सेवन करने से गर्भपात होने का खतरा रहता है।

प्रेगनेंसी में अक्सर महिलाओं को उन चीजों को खाने की सलाह दी जाती है, जिससे उनकी सेहत अच्छी बनी रहे और बच्चे का विकास अच्छे से हो। प्रेगनेंसी के समय में महिलाओं को संतुलित आहार लेना आवश्यक होता है। इलायची के अंदर पोटेशियम, एंटीऑक्सीडेंट्स ,कैल्शियम, मैग्नीशियम, विटामिंस,आयरन, आदि पोषक तत्व पाए जाते हैं।

प्रेगनेंसी में अक्सर महिलाओं को उन चीजों को खाने की सलाह दी जाती है, जिससे उनकी सेहत बढ़िया और बच्चे का विकास अच्छे से हो सके। ऐसे समय में महिलाओं को संतुलित आहार लेना जरूरी होता है।

आपको बता दें कि गर्भावस्था में इलायची का सेवन करना महिलाओं के लिए सुरक्षित माना जा सकता है। लेकिन इसके सेवन से पहले उसकी सही तरीके के बारे में पता होना जरूरी है। एक रिसर्च से इस बात का पता चला हैं कि महिलाओं को इलायची के पाउडर के सेवन से उल्टी, जी मचलना आदि की समस्या से राहत मिल सकती है।

वहीं कुछ लोग यह भी सोचते हैं कि इलायची के सेवन से गर्भपात भी हो सकता है हालांकि इस पर अभी तक कोई डॉक्टरी रिसर्च नहीं हुआ हैं। ऐसे में इलायची का सेवन डॉक्टर की सलाह पर ही करना चाहिए। लेकिन गर्भवती महिलाओं को हमेशा इस बात को ध्यान में रखना चाहिए कि किसी भी चीज का अधिक मात्रा में सेवन करना सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है। अब बात करें इलायची की एक दिन में कितनी इलायची खाना सुरक्षित होता है। तो इस पर भी एक रिसर्च सामने आई है जो यह बताती है कि दिन में 500 मिलीग्राम इलायची सेहत के लिए उपयोगी है।

गर्भावस्था के दौरान इलायची का सेवन करते समय की जाने वाली सावधानियां।

1)गर्भावस्था में आवश्यकता से अधिक मात्रा में इलायची का सेवन ना करें। क्योंकि अधिक मात्रा में सेवन करने से यह शरीर के लिए नुकसानदायक हो सकता हैं।

2)प्रेगनेंसी के दौरान इलायची (elaichi in pregnancy)का सेवन डॉक्टर की सलाह पर करें।

3) इलायची के सेवन के बाद अगर एलर्जी के लक्षण दिखाई दें तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

4) सबसे पहले इलायची की कितनी मात्रा 1 दिन में लेनी चाहिए। इस बात का पता लगाएं उसके बाद ही इसका सेवन करें।

bacha girane ka gharelu upay. garbh girane ka gharelu nuskha.

garbhpat ke gharelu nuskhe : घरेलू उपाय गर्भपात के लिए हानिकारक।

उपरोक्त तरीकों से गर्भपात करना बेहद हानिकारक हो सकता है। गर्भपात करने के लिए असुरक्षित घरेलू उपाय जोखिम का कारण बन सकते हैं।

असुरक्षित गर्भपात के तरीके अपनाने से योनि से भारी रक्तस्राव और पेट में असहनीय दर्द हो सकता है।

गर्भपात के इन घरेलू उपायों से महिला को एलर्जी हो सकती या उल्टी व चक्कर आ सकते हैं। यहां तक कि महिला की मृत्यु भी हो सकती है।

अधूरा गर्भपात हो सकता है यानी गर्भाशय से भ्रूण के कुछ टिश्यू शरीर में रह सकते हैं, जो संक्रमण का कारण बन सकते हैं।

ये घरेलू नुस्खे पूरी तरह विश्वसनीय नहीं है और इन्हें अपनाने के बाद भी गर्भावस्था पूरी तरह से समाप्त हो जाती है इसका कोई प्रमाण नहीं हैं। साथ ही इन घरेलू उपायों को अपनाने से आगे चलकर आपको शिशु  से संबंधित समस्या हो सकती है।

अत: मेरा आपसे यह सुझाव हैं, कि आप जहां तक हो सके डॉक्टर की सलाह लें।

यह आर्टिकल आपकी हेल्थ से संबंधित किसी भी प्रकार का दावा नहीं करता हैं। यदि इन घरेलू उपायों को अपनाने से आपको अपने शरीर में किसी प्रकार के साइड इफेक्ट देखने को मिलते हैं, तो इसके लिए आप खुद जिम्मेदार होंगे। ऐसे में हमारा आपसे यही निवेदन है कि आप जब भी इन घरेलू उपायों का उपयोग (use) करें। डॉक्टर की परामर्श से ही करें।