पपीता खाने के फायदे। पपीते के पत्ते के फायदे। papaya benefits in hindi. papaya in hindi. papita ke patte ke fayde.

पपीता खाने के फायदे। पपीते के पत्ते के फायदे। papaya benefits in hindi. papaya in hindi. papita ke patte ke fayde. पपीता खाने के जलन, कोलेस्ट्रॉल और वजन में फायदा होता है। पपीता खाने के 6 फायदे जो आपको हैरत में डाल देंगे। बीमार होने या पेट खराब होने पर ही याद आता है पपीता ? रोज खाएं पपीता, होगी बहोत सारी बीमारीया दूर। पपीता खाने के ये जबरदस्त फायदे। पपीते के फायदे साथ ही पढ़ें इसके नुकसान। सिर्फ फायदे ही नहीं होते पपीते के नुकसान को भी समझना बहोत जरूरी है।

पपीता खाने के फायदे। papita ke fayde.


Benefits of eating papaya :
आइए जानते हैं, पपीता खाने के क्या फायदे होते हैं। वैसे तो आप जानते ही हैं, पपीता बहुत ही गुणकारी है ,बहुत ही आसानी से उपलब्ध होने वाला फल है | कई प्रकार के रोगों को दूर करने में भी पपीता बहुत लाभदायक होता है । आइए जानते हैं ? पपीता खाने के फायदे व हैरान कर देने वाले 6 फायदे कौन-कौन से हैं |

पाचन क्रिया | Digestion .

पपीता (papita) एक ऐसा फल है ,जो बहुत जल्दी पच जाता है। पाचन क्रिया को मजबूत बनाता है । पपीता (papita)का सेवन आप खाना खाने के बाद भी कर सकते है ,ताकि आप की पाचन शक्ति बढ़ी रहे , इसलिए पपीता(papita) पाचन क्रिया के लिए बहुत ही फायदेमंद है |

आंखों के लिए | for the eyes .

पपीता(papita) न केवल पेट के लिए फायदेमंद है, बल्कि आंखों की रोशनी में भी फायदेमंद है। रोजाना पपीते का सेवन करने से आंखों की रोशनी बढ़ती है | इसमें मौजूद vitamin – E भरपूर मात्रा में पाया जाता है | साथ ही vitamin -C भी पाया जाता है जो कि आंखों के लिए फायदेमंद है | इसलिए आप अपने आहार में पपीते का सेवन जरूर करें |

मासिक धर्म | Menstrual .

अगर आपके मासिक धर्म में भी परेशानी है, तो आप पपीते का सेवन कर सकते हैं | मासिक धर्म कम आने या फिर मासिक धर्म के समय आपके पेट में दर्द की समस्या होने पर आप पपीते (papita) का सेवन कर लें | सुबह खाली पेट इसका सेवन करने से आपका मासिक धर्म अच्छे से आता है | आपकी यह समस्या कुछ ही समय में सही हो जाएगी |

कब्ज |

अगर आपके भी कब्ज जैसी समस्या रहती है, तो आप भी पपीते (papita) का सेवन कर सकते हैं । कब्ज की समस्या होने पर आप दिन में दो बार पपीते का सेवन करें | एक तो सुबह खाली पेट व दूसरी बार रात को खाना खाने के बाद में पपीते का सेवन करें | ऐसा करने से आप की कब्ज की समस्या दूर हो जाती हैं । इसलिए आप भी पपीते का सेवन करके अपने पेट को साफ कर सकते हैं, अर्थात रख सकते हैं |

कैंसर ।

पपीते (papita) का सेवन करके आप कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से छुटकारा पा सकते हैं। पपीते में कई प्रकार के vitamin , protein, मौजूद हैं , जो कैंसर जैसी गंभीर बीमारी को सही करने में भी बहुत उपयोगी रहता है। इसलिए कैंसर के रोगी को पपीते का सेवन करना चाहिए , ताकि आप कैंसर जैसी बीमारी से बच सकें |

कील -मुहांसों से छुटकारा |

आप भी कील मुहांसों से परेशान है, तो पपीते (papita) का सेवन करे | क्योंकि पपीते (papita) में पोटेशियम (Potassium) प्रोटीन(protein) vitamin -A जैसे कई प्रकार के विटामिन(vitamin) मौजूद होने के कारण आप को मुंहासों से भी छुटकारा दिलाता है , आप पपीते का face pack बना कर अपने चेहरे पर अच्छे से लगा कर हल्के हाथ से मसाज कर लें, इससे भी आप कील, मुंहासे से छुटकारा पा सकते हैं।

पपीता कब नहीं खाना चाहिए? When should you not eat papaya.

papeeta kab nahin khaana chaahie : पपीता (papita ) एक ऐसा फल है, जो हर मौसम में उपलब्ध होता है | हर इंसान इसको खा सकता है, कई प्रकार के रोगों से छुटकारा दिला सकता है ,पपीता चेहरे व पेट की बीमारियों में बहुत ही फायदेमंद होता है | पपीते में vitamin -A , vitamin-C , magnesium , potassium, protein , पाया जाता हैं | पपीते (papita )का सेवन आप सब्जी के रूप में भी कर सकते हैं | पपीता एनर्जी से भरपूर फल होता है ,पपीते का सेवन अगर आप सुबह खाली पेट करते हैं | आपको ज्यादा लाभ होता है, पपीता (papita )खाने से आपकी पाचन क्रिया भी अच्छी बनी रहती है ,साथ ही थकान नहीं होती है |
स्वास्थ्य को तरोताजा बनाए रखता है। भोजन को पचाने में भी लाभदायक माना गया है | पपीते के पेड़ पर 12 महीने फल लगते हैं, यह फल अधिक मात्रा में लगता हैं, पपीते के छोटे से पौधे पर ही फल लगने शुरू हो जाते हैं |

  • पपीते (papita )का सेवन उन लोगों को नहीं करना चाहिए ? जिनको ब्लड प्रेशर की समस्या होती है, अगर आप ब्लड प्रेशर की दवाइयां खा रहे हैं, ऐसे में आप पपीते का सेवन ना करें , वरना आपको नुकसान हो सकता है |
  • पपीता (papita)हमारे शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है, पपीते(papita) में vitamin-C एंटीऑक्सीडेंट (antioxidant) भरपूर मात्रा में पाया जाता है , इस कारण से यह कई प्रकार के रोगों को दूर करने में बहुत ही फायदेमंद है | लेकिन विटामिन सी (vitamin-C )की अधिक मात्रा लेने या पपीते (papita)का अधिक सेवन करने से किडनी में पथरी की समस्या भी हो सकती है |
  • स्तनपान कराने वाली महिला को पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए। 1 साल से पहले नवजात शिशु को पपीते का सेव नहीं करवाना चाहिए |
  • गर्भवती महिला को भी पपीते (papita)का सेवन नहीं करना चाहिए । अगर गर्भवती महिला पपीते का सेवन करती है, तो उस को गर्भ पात हो सकता हैं । इसलिए गर्भवती महिला पपीते का सेवन भूल कर भी ना करें |
  • दस्त लगने पर भी पपीते (papita) का सेवन नहीं करना चाहिए । जिन लोगो को हार्ट अटैक (Heart attack) की समस्या problem है , उन लोगो को भी पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए |

पपीता खाने से क्या लाभ मिलता है? papaya benefits in hindi. benefits of papaya in hindi.

papeeta khaane se kya laabh milata hai : आज हम आपको पपीते से क्या लाभ प्राप्त होते हैं । पपीता (papaya)खाने से क्या लाभ मिलता है, इसके बारे में हम आपको बताते हैं, वैसे तो आप जानते ही हैं, कि पपीता विटामिन (vitamin) व गुणों से भरपूर होता है। कई प्रकार के रोगों को दूर करने में भी पपीता बहुत ही लाभदायक होता है। आइए जानते हैं, पपीता खाने के क्या-क्या लाभ हैं |

हृदय संबंधी समस्या | heart problems .

hrday sambandhee samasya : हृदय संबंधी समस्याओं में भी पपीता (papaya)बहुत ही गुणकारी माना गया है । अगर हृदय संबंधी रोगों में पपीते (papita)का सेवन करवाया जाये , तो उसको हृदय संबंधी समस्या से निजात दिलाई जा सकती है, इसलिए पपीता न केवल पाचन क्रिया में बल्कि कैंसर जैसे रोगों के लिए भी लाभदायक है । साथ ही साथ हृदय संबंधी रोगों के लिए भी लाभदायक है।

मोटापा । obesity .

motaapa : पपीता खाने से मोटापा भी कम होता है। आप भी अपने मोटापे को कम करना चाहते हैं, तो पपीते का सेवन करें । क्योंकि पपीता खाने के बाद काफी देर तक भूख नहीं लगती है। इसमें मौजूद vitamin -A ,vitamin – C, magnesium , potassium, प्रचुर मात्रा में होने के कारण यह मोटापा भी कम करने में सहयोग करता है ।

पाचन क्रिया । digestion process .

paachan kriya : पपीता (papita)एक ऐसा फल है । जो बहुत जल्दी पच जाता है, पाचन क्रिया को मजबूत बनाता है । पपीता(papita) का सेवन आप खाना खाने के बाद भी कर सकते है, ताकि आप की पाचन शक्ति बढ़ती रहे। इसलिए पपीता पाचन क्रिया के लिए बहुत ही लाभदायक हैं।

आंखों के लिए । for the eyes

aankhon ke lie : पपीता (papita)न केवल पेट की समस्या के लिए बल्कि त्वचा के लिए भी लाभदायक है ,आंखों की रोशनी में भी बहुत फायदेमंद है। रोजाना पपीते का सेवन करने से आंखों की रोशनी बढ़ती है । इसमें मौजूद vitamin – E भरपूर मात्रा में पाया जाता है। साथ ही vitamin – C भी पाया जाता है ,जो कि आंखों के लिए लाभदायक है । इसलिए आप अपने आहार में पपीते का सेवन जरूर करें

मासिक धर्म में लाभदायक। Useful in menstruation.

maasik dharm mein laabhadaayak : अगर आपको मासिक धर्म से भी संबंधित परेशानी है ,तो भी आप पपीते (papita) का सेवन कर सकते हैं। अगर आप का मासिक धर्म कम आता है, या फिर मासिक धर्म के समय आपके पेट में दर्द की समस्या होने पर आप पपीते का सेवन कर लें। सुबह खाली पेट इसका सेवन करने से भी आपका मासिक धर्म अच्छे से आता है ।

कैंसर । Cancer.

kainsar : आप पपीते (papita)का सेवन करके अपनी कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से छुटकारा पा सकते हैं व पपीते में मौजूद कई प्रकार के vitamin,protein मौजूद हैं ,जो कैंसर जैसी गंभीर बीमारी को सही करने में भी बहुत उपयोगी रहता है। इसलिए कैंसर के रोगी को पपीते (papita) का सेवन करना चाहिए , ताकि आप कैंसर जैसी बीमारी से बच सकें।

पपीते के पत्ते का जूस पीने के फायदे। papaya leaf juice patanjali .

papita ke patte ka juice ke fayde : क्या आप जानते हैं की पपीते के पत्ते का जूस सेहत के लिए किस प्रकार से लाभदायक होता है । पपीते के पत्ते का जूस किस प्रकार से शरीर को स्वस्थ व हेल्दी बनाता हैं।आज हम आपको पपीते के पत्ते के जूस (papaya leaf juice) के क्या-क्या फायदे होते हैं। पपीते के पत्ते का जूस किस प्रकार से आप इस्तेमाल करके अपनी अनेक प्रकार की बीमारियों से छुटकारा पा सकते हैं, आइए जानते हैं ! पपीते के पत्ते के फायदे के बारे में। यह जानने के लिए नीचे दी गई बातों को ध्यानपूर्वक पढ़ें।

डायबिटीज में पत्तों का जूस । Leaf juice in diabetes.

daayabiteej mein patton ka joos : डायबिटीज (Diabetes) के रोगी को अगर पपीते के पत्तों का जूस निकालकर पिला दिया जाए ,तो बहुत ही लाभकारी होता है,दवा के रूप में काम करता है। रोजाना डायबिटीज (Diabetes) के रोगी को थोड़ी-थोड़ी मात्रा में पपीते के पत्ते का जूस निकालकर पिलाने से खून में शुगर की मात्रा कम हो जाती है व खून में कोलेस्ट्रॉल (cholesterol)का लेवल भी कम हो जाता है यह बहुत ही फायदेमंद होता है।

पेट के लिए । for the stomach.

pet ke lie : पपीते (papita)के पत्तों का जूस पेट के लिए भी फायदेमंद होता है । पपीते के पत्तों में कई प्रकार के एंजाइम (enzyme) होते हैं । इसलिए रोजाना एक कप पपीते के पत्तों का जूस निकालकर सुबह खाली पेट पीने से पाचन शक्ति बढ़ती है, साथ ही पेट के गैस की समस्या भी दूर होती है।

मलेरिया के लिए ।

for malaria : पपीते के पत्ते बहुत ही गुणकारी होते हैं । उन से बने जूस को पीने से कई खतरनाक बीमारियां दूर हो जाती हैं ,जैसे कि मलेरिया (Malaria) ,डेंगू (Dengue) चिकनगुनिया Chikungunya आदि। कई प्रकार के रोगों से छुटकारा मिलता है। इन बीमारियों को पपीते के जूस का सेवन करके भी आप इनको खत्म कर सकते हैं। पपीते के जूस में इन सभी बीमारियों से लड़ने की अधिक क्षमता होती है। खून में प्लेटलेट्स को बढ़ाता है यह बहुत ही फायदेमंद होता है।

भूख बढ़ाने में। In increasing appetite.

bhookh badhaane mein : पपीते के पत्तों का जूस भूख को बढ़ाने में बहुत ही फायदेमंद होता है , पपीते के पत्तो के जूस में एक नींबू का रस डालकर पीने से भूख बढ़ती है । पाचन शक्ति मजबूत होती हैं।

त्वचा के लिए पपीते के फायदे हिंदी में। papaya benefits for skin in hindi .

tvacha ke lie papeete ke phaayade hindee mein : आप यह तो जानते ही हैं । पपीता कई प्रकार के गुणों से भरपूर है। इसमें कई प्रकार के vitamin मौजूद हैं , पेट से लेकर चेहरे व स्किन तक की समस्या को भी दूर करता है। पपीते (papita)के इस्तेमाल से मुहांसों से भी छुटकारा पा सकते है। पपीते (papita)के सेवन से अपनी बढ़ती उम्र को कम कर सकते हैं अर्थात अपनी बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम कर सकते हैं। पपीता (papita) चेहरे को बेदाग बनाकर चेहरे की रंगत निखारता है,डार्क सर्कल (Dark circles)से छुटकारा दिलाता है। इसलिए आप भी पपीते(papita) का सेवन करें , और अपनी अनेक प्रकार की बीमारियों से छुटकारा पाए । पपीता (papita)आपको कई प्रकार की समस्याओं से निजात दिलाता है। पपीता के इस्तेमाल से आपकी चेहरे से संबंधित समस्या कुछ ही समय में सही हो जाएगी।

दाग -धब्बे की समस्या से छुटकारा। Get rid of the problem of blemishes.

daag -dhabbe kee samasya se chhutakaara : अगर आपको भी दाग -धब्बें जैसे समस्या रहती है, तो आप भी पपीते (papita)का सेवन कर सकते हैं ,क्योंकि पपीते में कई प्रकार के विटामिन (vitamin), प्रोटीन protein मौजूद होते हैं जो कि दाग- धब्बे दूर करने में बेहद लाभकारी हैं। अगर आप की स्कीन पर किसी भी प्रकार के दाग- धब्बे है तो ऐसे में आप पपीते का face – pack बनाकर अपने चेहरे पर लगाएं और 10 मिनट के तक मसाज करें इसके बाद चेहरे को धो लें।ऐसा करने से आपकी स्कीन चमकने लगेगी व दाग -धब्बे दूर हो जाएंगे।

चेहरे की रंगत निखारने में। To enhance the complexion of the face.

chehare kee rangat nikhaarane mein : पपीते में कई कई प्रकार की विटामिन (vitamin), प्रोटीन( protein) मौजूद होते हैं, जो कि चेहरे की रंगत निखारने में बहुत ही लाभदायक होते हैं। पपीता रूखी व बेजान त्वचा को सॉफ्ट ,मुलायम बनाता है, जिससे आप की डल स्किन दिखना बंद हो जाती हैं।

कील- मुहांसों से छुटकारा । Nail- get rid of acne.

keel- muhaanson se chhutakaara : कील मुहांसों से परेशान है तो आप भी पपीते(papita) का सेवन करें, क्योंकी पपीते में पोटेशियम(Potassium) ,प्रोटीन (Protein) ,vitamin- A जैसे कई प्रकार के vitamin मौजूद होने के कारण आप को मुंहासों से भी छुटकारा दिलाता है। आप पपीते का फेसपैक face – pack बना कर अपने चेहरे पर अच्छे से लगा कर हल्के हाथ से मसाज कर ले। इससे भी आप कील,मुंहासे से छुटकारा पा सकते हैं।

खाली पेट पपीता खाने के नुकसान। पपीता खाने से क्या नुकसान है?

khaalee pet papeeta khaane ke nukasaan : आज हम आपको पपीता खाने के क्या नुकसान हो सकते हैं, उनके बारे में बताते हैं। पपीता रक्त में शर्करा का लेवल कम करता है। आइए जानते हैं। पपीता(papita) खाने के क्या नुकसान होते हैं ,और पपीता का सेवन अधिक करने पर क्या होता है व किन-किन बीमारी वाले लोगों को पपीता (papita)का सेवन नहीं करना चाहिए? इससे आपको क्या नुकसान हो सकते हैं। उनके बारे में आज हम आपको विस्तार पूर्वक बताते हैं ।

पपीता खाने के नुकसान।Disadvantages of eating papaya on empty stomach .

पपीते( papita) का सेवन गर्भवती(garbhvati) महिलाओं को नहीं करना चाहिए। क्योंकि पपीता की तासीर गर्म होती है। इसलिए गर्भवती (garbhvati)महिला को पपीते( papita) का सेवन नहीं करना चाहिए डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही पपीते का सेवन करें।

ज्यादा पपीते (papita) का सेवन करने से दस्त व उल्टी जैसी समस्या भी हो जाती हैं। इसलिए पपीते (papita) का सेवन अधिक नहीं करना चाहिए , सही मात्रा में सही प्रकार से ही इसका सेवन करना चाहिए।

वैसे तो पपीता (papita) गुणों से भरपूर होता है। इसमें कई प्रकार के vitamin पाए जाते है ,जैसे की पपीते(papita) में A, B, D, vitamin , केल्शियम(calcium), लौह तत्व (Loha tatva), प्रोटीन इत्यादि,पर्याप्त मात्रा में पाए जाते है। पपीते से वीर्य बढ़ता है, और त्वचा संबंधी रोग दूर करने में भी यह बहुत ही फायदेमंद होता हैैं, लेकिन अधिक मात्रा में पपीते का सेवन करने से थायराइड (thyroid)की समस्या उत्पन्न हो सकती हैं।

पपीता(papita) रक्त शर्करा का लेवल कम करता है।इस कारण से मधुमेह के रोगी को पपीते (papita)का सेवन नहीं करना चाहिए।अगर सेवन करना चाहते हैं, तो डॉक्टर की सलाह से ही करना चाहिए।

सुबह- खाली पेट पपीता खाने के फायदे। papita khane ke fayde. Benefits of eating papaya in the morning on an empty stomach.

subah- khaalee pet papeeta khaane ke phaayade : सुबह – खाली पेट पपीता खाने से क्या फायदे मिलते हैं। पपीते का सेवन सुबह खाली पेट करने से शरीर को किस प्रकार पपीता फायदा पहुंचाता है
अगर आप अपने वजन को कम करना चाहते हैं, तो सुबह-सुबह खाली पेट पपीते (papita) का सेवन करना चाहिए । क्योंकि पपीते (papita) में मौजूद फाइबर (fibre)हमारे शरीर के लिए व पेट के लिए बहुत ही फायदेमंद है। पपीते में फाइबर (fibre)भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं।

मासिक धर्म ।

अगर आपके मासिक धर्म में भी परेशानी है, तो आप पपीते(papita) का सेवन कर सकते हैं। अगर आप का मासिक धर्म कम आता है तो सुबह खाली पेट या फिर मासिक धर्म के समय आपके पेट में दर्द की समस्या होने पर आप पपीते (papita) का सेवन कर ले। सुबह खाली पेट इसका सेवन करने से आपका मासिक धर्म अच्छे से आता है ऐसा करने से आपकी यह समस्या कुछ ही समय में सही हो जाएगी।

कब्ज ।

अगर आपको कब्ज जैसी समस्या रहती है,तो आप भी पपीते(papita) का सेवन कर सकते हैं। कब्ज की समस्या होने पर आप दिन में दो बार पपीते (papita) का सेवन करें। एक तो सुबह खाली पेट व रात को खाना खाने के बाद में पपीते का सेवन करें। ऐसा करने से आप की कब्ज की समस्या दूर हो जाती है। इसलिए आप भी पपीते (papita) का सेवन करके अपने पेट को साफ कर सकते हैं।

कैंसर ।

पपीते (papita) का सेवन करके कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से छुटकारा पा सकते हैं। पपीते(papita) में मौजूद कई प्रकार के vitamin, protein ,मौजूद हैं। कैंसर जैसी गंभीर बीमारी को सही करने में भी बहुत उपयोगी रहता है। इसलिए कैंसर के रोगी को पपीते का सेवन करना चाहिए, ताकि आप कैंसर जैसी बीमारी से बच सकें।

कील – मुहांसों से छुटकारा ।

कील- मुहांसों से परेशान है तो आप भी पपीते (papita) का सेवन करे। क्योंकी पपीते(papita) में पोटेशियम (potassium),प्रोटीन(protein), vitamin- A जैसे कई प्रकार के vitamin मौजूद होने के कारण आप को मुंहासों से भी छुटकारा दिलाया जा सकता है।आप पपीते(papita) का face – pack बना कर अपने चेहरे पर अच्छे से लगा कर हल्के हाथ से मसाज कर लें । ऐसा करने पर भी आप कील,मुंहासे से छुटकारा पा सकते है।

हृदय संबंधी समस्या ।

हृदय संबंधी समस्याओं में भी पपीता(papita) बहुत ही गुणकारी माना गया है, अगर हृदय संबंधी रोगों में पपीते(papita) का सेवन करे ,तो ह्रदय संबंधी समस्या से निजात मिलती है,इसलिए पपीता न केवल पाचन क्रिया में बल्कि कैंसर जैसे रोगों के लिए भी फायदेमंद हैं ।

मोटापा ।

पपीता(papita) खाने से मोटापा भी कम होता है। अगर आप भी अपने मोटापे को कम करना चाहते हैं । पपीते (papita) का सेवन करें,क्योंकि पपीता (papita)खाने के बाद काफी देर तक भूख नहीं लगती है। इसमें मौजूद vitamin -A ,vitamin-C ,मैग्नीशियम(magnesium) ,पोटेशियम (potassium)प्रचुर मात्रा में होने के कारण यह मोटापा भी कम करने में सहयोग करता है ।

पपीता खाने के बाद क्या नहीं खाना चाहिए ? what not to eat after eating papaya.

papeeta khaane ke baad kya nahin khaana chaahie : पपीता खाने के लिए तुरंत बाद क्या खाना चाहिए। क्या नहीं खाना चाहिए ,आज हम यह आपको इस आर्टिकल के माध्यम से समझाएंगे तो आइए जानते हैं पपीता खाने के तुरंत बाद कौन सी चीज का सेवन नहीं करना चाहिए।

संतरा । Orange .

santara : पपीता(papita) खाने के बाद में संतरे (santray)का सेवन नहीं करना चाहिए ,क्योंकि संतरा (santray)स्वाद में खट्टा होता है और पपीता(papita) स्वाद में मीठा होता है।,इसलिए पपीता(papita) खाने के तुरंत बाद संतरे (santray) का सेवन नहीं करना चाहिए।

दही। Curd.

dahee : पपीते (papita)का सेवन करने के बाद में आप दही का सेवन ना करें । यह दोनों ही वैसे तो हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक हैं,लेकिन पपीता (papita) खाने के तुरंत बाद दही नहीं खाना चाहिए । क्योंकि पपीते(papita)की तासीर गर्म होती है और दही की तासीर ठंडी होती है । इसलिए दोनों को साथ में नहीं खाना चाहिए , क्योंकि दोनों को साथ में खाने पर स्वास्थ्य संबंधी कई प्रकार की समस्याएं हो सकती हैं।

नींबू । Lemon .

neemboo : पपीता (papita)खाने के बाद में नींबू का सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि नींबू और पपीते(papita)का एक साथ सेवन करने से हीमोग्लोबिन (Hemoglobin)की समस्या हो जाती है,या फिर एनीमिया( Anemia) होने की संभावना भी बढ़ जाती है, वैसे तो नींबू हमारी सेहत के लिए बहुत जरूरी है! बहुत ही अच्छा होता है, सुबह खाली पेट नींबू को गुनगुने पानी में मिलाकर पीने से पेट से संबंधित कई प्रकार की बीमारियां दूर होती हैं अगर आप पपीता खाने के बाद में नींबू का सेवन करना चाहते हैं तो 5 से 6 घंटे के बाद में इसका सेवन कर सकते हैं ।

कच्चा पपीता खाने का तरीका। कच्चा पपीता खाने के फायदे और नुकसान।benefits of eating raw papaya .

वैसे तो पपीता(papita) हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। लेकिन कच्चा पपीता पाचन क्रिया को सही करने में बहुत ही कारगर होता है, कई प्रकार के औषधीय गुणों से भरपूर होता । कच्चे पपीते के सेवन से त्वचा संबंधी रोगों को दूर किया जा सकता है ।कच्चा पपीता(papita) कोलेस्ट्रोल (cholesterol)को कम करने और मासिक धर्म की समस्या को दूर करने में भी फायदेमंद होता है। आप अपने अच्छे स्वास्थ्य के लिए कच्चे पपीते का सेवन कर सकते हैं।आइए जानते हैं कच्चे पपीते के क्या फायदे और क्या नुकसान हैं।

kachcha papeeta khaane ke phaayade :

वजन घटाने के लिए । for weight loss.

vajan ghataane ke lie : अगर आप अपना वजन घटाना चाहते हैं, तो कच्चे पपीते का सेवन करें । क्योंकि कच्चे पपीते में मौजूद फाइबर(fibre) अधिक मात्रा में पाया जाता है, जो कि बहुत ही आसानी से आपका वजन कम करने में सहायक होता है।

त्वचा के लिए। to skin.

tvacha ke lie : कच्चे पपीते (papita)में फाइबर (fibre) होने के कारण से त्वचा से टॉक्सिंस(toxins) को अवशोषित करता है। इसलिए आप भी कच्चे पपीते का सेवन करें।

इंफेक्शन से बचाने के लिए । To protect against infection.

imphekshan se bachaane ke lie : कच्चे पपीते (papite)में vitamin- C, vitamin -A , vitamin- E , भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जो कि रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। बैक्टीरिया (bacteria)को शरीर में बढ़ने से रोकता है या फिर कोई इंफेक्शन है, तो उसको भी सही करने में कच्चा पपीता बहुत ही फायदेमंद है।

पेट के लिए । for the stomach

pet ke lie : कच्चे पपीते में कई प्रकार के vitamin ,फाइबर (fibre) भरपूर मात्रा में होने के कारण से पेट से संबंधित समस्याओं से छुटकारा दिलाता है। पेट में गैस, डायरिया, कब्ज, बवासीर आदि कई प्रकार की समस्याओं से बचाता है। पाचन तंत्र को भी मजबूत करता है। इसलिए अपनी पेट की समस्या को दूर करने के लिए आप कच्चे पपीते का सेवन भी कर सकते हैं। यह बहुत ही फायदेमंद होता हैं।

kachcha papeeta khaane ke nukasaan :

  1. अधिक मात्रा में कच्चे पपीते का सेवन करने पर पेट में दर्द व पेट में जलन की समस्या भी हो सकती हैं।
  2. कच्चा पपीता गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत ही हानिकारक होता हैं।
  3. कच्चे पपीते का सेवन करने से दस्त की समस्या भी हो सकती है। वैसे तो पपीता (papita) कब्ज की समस्या को दूर करता है, पर अगर इसका सेवन अधिक कर लिया जाए, तो दस्त की समस्या भी हो जाती है।
  4. कच्चे पपीते का सेवन करने से कई बार उल्टियां भी हो जाती हैं। इसलिए आप पपीते (papite)का सही रूप से व सही मात्रा में सेवन करें। ताकि आपको कोई भी किसी भी प्रकार का नुकसान ना हो और आप इन सभी नुकसान से बच सके।
  5. गुर्दे की पथरी के लोगों को कच्चे पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए। 1 साल से कम उम्र के बच्चों को पपीते का सेवन नहीं करवाना चाहिए।

पका पपीता खाने के फायदे और नुकसान। पका पपीता खाने के फायदे। Advantages and disadvantages of eating ripe papaya .

पपीता को तो आप सभी जानते ही हैं कि पपीता सेहत के लिए किस प्रकार लाभदायक होता है या सेहतमंद होता है आइए जानते हैं कि पका पपीता खाने से क्या फायदे मिलते हैं। पपीता खाने से क्या नुकसान होते हैं। पका पपीता किस प्रकार सेहत के लिए लाभदायक होता हैं व साथ ही इसके नुकसान के बारे में भी जानते हैं।

  • पाचन तंत्र को सक्रिय रखने में पका पपीता (papita)बहुत ही फायदेमंद होता है।
  • आंखों की रोशनी को बढ़ाने में भी पका पपीता(papita) फायदेमंद होता है।
  • रोग प्रतिरोधक क्षमता, immunity को बढ़ाने में, पाचन क्रिया को मजबूत करने में पका पपीता(papita) फायदेमंद हैं।
  • मासिक धर्म में भी पपीता(papita) बहुत ही फायदेमंद है।
  • मोटापा कम करने वजन को कम करने में पपीता(papita) फायदेमंद होता हैं।
  • कोलेस्ट्रोल (cholesterol)की मात्रा को कम करने में पका पपीता (papita) फायदेमंद होता है। क्योंकि पपीते में भरपूर मात्रा में फाइबर (fiber)पाया जाता है।
  • कैंसर से बचाने के लिए इम्यूनिटी (immunity)को बढ़ाने के लिए अर्थात इम्यूनिटी को मजबूत करने के लिए पका पपीता फायदेमंद होता है।

पका पपीता के नुकसान । paka papeeta khaane nukasaan.

  • पपीता (papita)रक्त शर्करा का लेवल कम करता है। इस कारण से मधुमेह, Diabetes के रोगी को पपीते(papita) का सेवन नहीं करना चाहिए। अगर करना चाहते हैं, तो डॉक्टर की सलाह से ही करना चाहिए।
  • पपीते (papita)का सेवन गर्भवती महिलाओं को नहीं करना चाहिए। क्योंकि पपीता की तासीर गर्म होती है इसलिए गर्भवती महिला को पपीते (papita)का सेवन नहीं करना चाहिए। डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही पपीते(papita) का सेवन करें ।
  • ज्यादा पपीते (papita)का सेवन करने से दस्त व उल्टी जैसी समस्या भी हो जाती है ।इसलिए पपीते(papita) का सेवन अधिक नहीं करना चाहिए और सही मात्रा में सही प्रकार से करना चाहिए।
  • अधिक मात्रा में पपीते(papita) का सेवन करने से थायराइड( thyroid)की समस्या उत्पन्न हो सकती हैं।
  • गुर्दे(gurde) की पथरी(Pathri) के लोगो को पपीते (papita)का सेवन नहीं करना चाहिए।

पपीता खाने से क्या होता है। What happens if you eat papaya?

papeeta khaane se kya hota hai : आइए जानते हैं ,पपीता खाने से क्या होता है ।आज हम पपीता(papita) खाने से क्या होता है। के बारे में विस्तार पूर्वक बताते हैं, कि पपीते (papita) के सेवन से आप को किस प्रकार से फायदा और नुकसान प्राप्त होता है।पपीता खाने से क्या होता है ,आइए जानते हैं।

पपीता (papita)पेट को साफ करने के लिए काम में आता है। पपीते(papita) में फोलेट( folate) और vitamin -E , vitamin -C होता है। पपीता पेट से संबंधित बीमारी को कम करता है। पपीता (papita) शरीर में गर्मी पैदा करता है। पपीता खाने से डाइजेशन (digestion)सिस्टम अच्छा होता है। पपीते खाने से हार्मोन (Harmon), एस्ट्रोजन(astrojan) को बैलेंस ,balance करता है। शरीर को हल्दी बनाए रखता है, पाचन संबधी विकारों को दूर करता हैं।

पपीते के पत्ते के फायदे । papita ke patte ke fayde.

benefits of papaya leaves : पपीते (papite) के पत्ते बहुत ही फायदेमंद होते है ।अगर पपीते (papaya) के पत्तो का सेवन करते है, तो ये भूख बढ़ाने में बहुत ही फायदे मंद होते है ।

  • पपीते के पत्ते कैंसर की बीमारी दूर करने में भी फायदेमंद है।
  • डेंगू(Dengue) की बीमारी से लड़ने में भी पपीते (papaya) की पतियों का उपयोग बहुत ही फायदेमंद होता है।
  • मलेरिया की बीमारी को दूर करने में पपीते (papite) के पत्ते बहुत ही फायदेमंद होते है।
  • कील मुहांसों को दूर करने में भी पपीते (papite)के पत्ते बहुत फायदेमंद होते हैं।
  • इम्यूनिटी (immunity)को बढ़ाने में भी पपीते(papite) के पत्ते बहुत ही फायदेमंद होते हैं। व इन का जूस निकाल कर पीने से यह इम्यूनिटी (immunity)को बढ़ाते हैं। पाचन क्रिया को मजबूत बनाते हैं । पेट से संबंधित कई प्रकार की समस्याओं को दूर करता है। पपीते के फल के साथ-साथ इसके पत्ते भी बहुत ही गुणकारी व फायदेमंद होते हैं।

टाइफाइड में पपीता खाना चाहिए।

आज हम आपको यह बताएंगे। कि टाइफाइड (Typhoid)होने पर हमें पपीता खाना चाहिए या नहीं खाना चाहिए । इसके बारे में हम आपको बताएंगे। आइए जानते हैं, पपीता खाना चाहिए या नहीं खाना चाहिए के बारे में।

टाइफाइड (Typhoid) होने पर आप पपीते का सेवन कर सकते हैं। साथ ही टाइफाइड(Typhoid) होने पर आप केला , चीकू, मौसमी, संतरे का भी सेवन कर सकते हैं। टाइफाइड(Typhoid) में दाल, खिचड़ी, हरी सब्जियां ,पालक ,पत्ता गोभी ,फूल गोभी, गाजर और पपीता खा सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *